हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Friday, March 8, 2013

''महिला दिवस पर एक गुज़ारिश ''


मेरे जीवन में आने वाली हर महिला जो मेरे लिए प्रेरणा स्त्रोत बनी
''महिला दिवस'' की हार्दिक शुभकामनाएँ 





पुरुष के संग कंधे से कन्धा मिलाकर अपनी भावनाओं 
को साकार करने हेतु पुरुष समाज से गुहार 

अपने अरमानों को मेरे संग जोड़,
मेरे अरमानों को विस्तार दे दो  !


उड़ती रहूँ पंछियो जैसे स्वछंद , 
मुझे मेरा गगन विशाल दे दो !





अबला नहीं सबला मुझे जानो ,
मुझे मेरा अस्तित्व सम्मान दे दो !

हंसकर करूँ हर चुनौती स्वीकार ,
मुझे वापिस मेरी मुस्कान दे दो !!

जो पुरुष नहीं समझ पाते नारी अस्तित्व को उनके लिए 
महिला मित्रों  से गुज़ारिश  





अबला नही सबला बनो,
कंधा ढूंड मत कंधा बनो!

वार सहो नही तुम वार करो,
हर चुनौती तुम स्वीकार करो!!









Post A Comment Using..

39 comments :

  1. बहुत सुन्दर रचना!
    महिला दिवस की बधाई हो!
    जागो अब तो नारियों, तुम हो दुर्गा रूप।
    तुम्हें बदलना चाहिए, मौसम के अनुरूप।।

    आज समय की माँग है, दो परिवेश सुधार।
    कर्तव्यों के साथ में, छीनों अब अधिकार।।

    शक्ति स्वरूपा हो तुम्हीं, माता का अवतार।
    तुमको ही तो जगत का, करना है उद्धार।।

    ReplyDelete
    Replies
    1. सुंदर दोहे गुरु जी
      नारी को सम्मान दो ,समझो दुर्गा रूप
      माता का अवतार वो ,वो है शक्ति स्वरूप

      Delete
  2. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  3. आज हमारा है और हर दिन हमारा है, वैश्विक महिला दिवस पर ढेरों शुभकामनायें। बहुत सही लिखा आपने, थोड़ा सा अपना जोड़ रही हूँ, "अबला नहीं, सबला हो तुम, अपनी क्षमता पहचानो तुम .... "

    ReplyDelete
  4. लिखने और मानने में बहुत अंतर है

    सार्थकता तब होगी जब हर कोई नारी को मन से सम्मान दे

    ReplyDelete
    Replies
    1. vividhita to har jagah hai phir bhi choti jati ke log to isse bahut peedit hain

      Delete
  5. अच्छा संदेश!
    काश! हर पुरुष और स्त्री इसे समझे और सबको उसके हिस्से का मान-सम्मान दे....
    ~सादर!!!

    ReplyDelete
  6. बहुत ही सुन्दर संदेश महिला दिवस की बधाई .

    ReplyDelete
    Replies

    1. नारी को सम्मान दो ,समझो दुर्गा रूप
      माता का अवतार वो ,वो है शक्ति स्वरूप

      Delete
  7. सार्थक अभिव्यक्ति।
    आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा शनिवार (9-3-2013) के चर्चा मंच पर भी है ।
    सूचनार्थ!

    ReplyDelete
  8. सुंदर अभिव्यक्ति,,,
    महिला दिवस की बहुत२ बधाई ,,,,

    Recent post: रंग गुलाल है यारो,

    ReplyDelete
  9. samman to har hal me milna chahiye, hardik badhayee

    ReplyDelete
  10. सार्थक संदेश मयी रचना....

    ReplyDelete
  11. महिला दिवश के अवसर हार्दिक शुभकामनाएं -सार्थक रचना.
    latest postमहाशिव रात्रि
    latest postअहम् का गुलाम (भाग एक )

    ReplyDelete
  12. महिला के रूप में जीवन पाने की बधाई :)

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपको भी हार्दिक बधाई बहन निवेदिता

      Delete
  13. सुंदर अभिव्यक्ति..

    ReplyDelete
  14. बहुत बढ़िया
    प्रेरक व प्रभावपूर्ण
    सादर !

    ReplyDelete
  15. प्रेरक और संदेशप्रद रचना, शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
    Replies
    1. हार्दिक अभिनन्दन शबनम जी

      Delete
  16. बहुत प्रभावी और सार्थक अभिव्यक्ति...

    ReplyDelete
  17. लाजवाब प्रस्तुति...बहुत बहुत बधाई...
    महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ...

    ReplyDelete
  18. महिला दिवस पर एक सार्थक सन्देश देती रचना.

    महाशिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  19. महिला दिवस पर अनुपम प्रस्तुति....
    :-)

    ReplyDelete
  20. pyari se abivyakti..
    shandaar prastuti.. photo ke karan, aur sundar lag raha :)

    ReplyDelete
  21. बहुत ही उत्तम. बहुत सुन्दर ..

    सादर

    नीरज 'नीर'

    KAVYA SUDHA (काव्य सुधा):

    ReplyDelete
  22. Bahut sundar

    http://popularindia.blogspot.in/2012/12/blog-post_30.html

    ReplyDelete