हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Tuesday, October 29, 2013

मुक्तक

जो कह ना सके,वो समझ लो जाना
जाने फिर कब हो तुम्हारा यूँ आना
दिल के आगे तो  झुकना ही पड़ेगा
हम नही रोकें तो खुद ही रुक जाना  
................