हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Tuesday, September 2, 2014

मिट्टी [कुण्डलिनी]

मिट्टी को कुम्हार ने ,दिए कई आकार 
गुलदान,घड़ा, घोलकें ,डिब्बे हुक्का तैयार 
डिब्बे हुक्का तैयार ,खड़ा है हाथी घोड़ा 
मिट्टी पाया रूप , लगा उसे जो हथौड़ा 
..............................