हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Saturday, October 27, 2012

'' अच्छा लगता है......ना चाहे कोई ''

रोकर हँसना अच्छा लगता है,
हंस कर रोना ना चाहे कोई !

बिछूड़ कर मिलना अच्छा लगता है,
मिलकर बिछूड़ना ना चाहे कोई !

गुस्से के बाद प्यार अच्छा लगता है,
प्यार के बाद गुस्सा ना चाहे कोई !

हार कर जीतना अच्छा लगता है,
जीत कर हारना ना चाहे कोई !

हानि के बाद लाभ अच्छा लगता है,
लाभ के बाद हानि ना चाहे कोई

पतझड़ के बाद बसंत अच्छा लगता है,
बसंत के बाद पतझड़ ना चाहे कोई !

जी जी कर जीना अच्छा लगता है,
मर मर कर जीना ना चाहे कोई !

खोकर पाना अच्छा लगता है,
पाकर खोना ना चाहे कोई !!