हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Tuesday, November 5, 2013

भैया दूज [दोहावली]

यम यमुना दोनों मिले, छाई ख़ुशी अपार 
दुनिया भर में गूंजता , बहन भ्रात का प्यार |

दीवाली के बाद ही ,आए भाई दूज 
करके भाई को तिलक ,बहन रही है पूज |

रोली अक्षत पुष्प से, पूजा करती आज 
भगवन आशीर्वाद दो, बनें भ्रात के काज |

जग में पवित्र प्रेम की, दूजी नहीं मिसाल 
जब मिलते भाई बहन, कहते अपना हाल |

रक्षा बहना की करे ,बहना का सम्मान 
उसकी खातिर त्यागता, भाई सब अरमान |

भैया बहना को सभी, देते आशीर्वाद 
भैया नित आशीष दे, बहन रहे आबाद |
******