हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Monday, June 2, 2014

कुर्सी [कुण्डलिया]

खाली कुर्सी हो गई करें क्यों इंतज़ार 
लूटा मोदी ने ह्रदय छेड़ ह्रदय के तार |
छेड़ ह्रदय के तार राग भी मधुर सुनाये 
जनता कहे पुकार अभी अच्छे दिन आये 
खूबसूरत है जीत बजाओ अब तुम ताली 
कुर्सी लो संभाल हुई है कुर्सी खाली ||

*****