हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Thursday, May 14, 2015

अब शोहरतें अपने नाम लिखें

आओ नए आयाम लिखें 
नवयुग का पैगाम लिखें 
बदनामियों से वास्ता बदस्तूर चला
अब शोहरतें अपने नाम लिखें ||
****