हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Thursday, July 4, 2013

सुप्रभात दोहे 1.


दोहे  रचने रोज के , आई हूँ मैं आज |

अधरों पर मुस्कान धर ,करती हूँ आगाज ||
नई सुबह ले आ गई, नया सुखद सन्देश |

पूरी हो हर कामना ,संकट हरे गणेश||
आये कोई विघ्न ना ,सर पर रखना हाथ|

पूरी करना कामना ,हे नाथों के नाथ||
चूम उठाया भोर ने ,ख़ुशी मिली है ख़ास | 

सुबह संदेशा आपका ,दे जाये नव आस  ||
बन जायेंगे आपके, सारे बिगड़े काम |

बिना थके बढते रहें , मन में धारे राम||
सुबह सुहानी आ गई, लेकर मस्त  फुहार |

पूरी हो हर कामना , खुशियाँ मिलें अपार||
.........................................