हमराही

सुस्वागतम ! अपना बहुमूल्य समय निकाल कर अपनी राय अवश्य रखें पक्ष में या विपक्ष में ,धन्यवाद !!!!

Sunday, March 22, 2015

चंद्रघंटा माँ,कुष्मांडा माँ [दोहे ]

मात चंद्रघंटा बनी , आज तीसरी शक्ति 
शांतिदायक रूप की ,करो आप भी भक्ति 


अर्ध चन्द्र है माथ पर, घंटे का आकार 
करते हैं इस रूप की ,उपासना नर नार 


कुष्मांडा माँ पूजते, चतुर्थ दिन के रोज 
दीर्घ आयु बल बुद्धि से ,बढे मनुज का ओज 


यश समृद्धि में वृद्धि कर, उन्नति करे प्रदान
रोग शोक का नाश कर ,देती सुख का दान  
****